दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कोरोना के नए मामले बढ़ने पर फिर से सख्त कदम उठाने के लिए कहा

मनीष सिसोदिया ने कहा कि फिलहाल अस्पताल में ज्यादा केस नहीं हैं, इसलिए ज्यादा परेशानी की बात नहीं है। 20 अप्रैल को डीडीएमए की बैठक में हम विशेषज्ञों से बात करेंगे और उनसे यह समझने की कोशिश करेंगे कि वे इसे कैसे देख रहे हैं। यह पूछे जाने पर कि क्या वह फिर से मास्क पर जुर्माना लगाने पर विचार कर रहे हैं? इसके जवाब में उन्होंने कहा कि अभी ऐसा कोई विचार नहीं है।

राजधानी में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों पर दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा कि अब कोरोना को 2 साल हो गए हैं, कोरोना के मुताबिक हमें तैयारी से लेकर टीकाकरण तक कोरोना के साथ जीना सीखना होगा। कोरोना कुछ हद तक रहेगा। अगर यह और बढ़ता है और सख्त कदम उठाने की जरूरत है तो हम इसे उठाएंगे।

मनीष सिसोदिया ने आगे कहा कि फिलहाल अस्पताल में ज्यादा केस नहीं हैं, इसलिए ज्यादा परेशानी की बात नहीं है। 20 अप्रैल को डीडीएमए की बैठक में हम विशेषज्ञों से बात करेंगे और उनसे यह समझने की कोशिश करेंगे कि वे इसे कैसे देख रहे हैं। यह पूछे जाने पर कि क्या वह फिर से मास्क पर जुर्माना लगाने पर विचार कर रहे हैं?

इसके जवाब में उन्होंने कहा कि अभी ऐसा कोई विचार नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि एमसीडी को एकजुट करने के बाद इन सबका समाधान नजर नहीं आ रहा है कि दिल्ली कैसे साफ होगी, सफाई कर्मियों को वेतन कैसे मिलेगा, भ्रष्टाचार कैसे दूर होगा। लेकिन यह जरूर दिखाई दे रहा है कि चूंकि एमसीडी चुनाव में भाजपा बुरी तरह हार रही थी, इसलिए उसने चुनाव स्थगित कर दिया।